क्या रोजाना एक्सरसाइज ( Exercise ) करना सही रहता है ? : क्या है सही तरीका ?

Is it right to do the exercise daily? : What is the right way? क्या रोजाना एक्सरसाइज ( Exercise ) करना सही रहता है ? : क्या है सही तरीका ?

हर रोज पुश अप करने से आपको दो प्रॉब्लम का सामना करना पड़ सकता है पहला तो यह कि पुश अप एक ऐसी एक्सरसाइज है जिसका आपके चेस्ट और ट्राइसेप्स वाले हिस्से पर सबसे ज्यादा असर होता है लेकिन किसी भी मसल को बढ़ाने के लिए कुछ नियम होते हैं जिसे फॉलो करना भी बहुत जरूरी होता है ।

एक तो यह कि जब आप पुशअप करते हैं तो चेस्ट की मसल टूटती है, अब मसल का उठना मतलब वह टूटना नहीं जो आप सोच रहे हैं यह लकड़ी टूटने या फिर गिलास टूटने जैसा नहीं होता, दरअसल एक्सरसाइज के प्रेशर की वजह से मसल्स में बहुत ही छोटे-छोटे माइक्रोस्कोपिक लेवल पर डैमेज क्रिएट होता है और फिर आप जब आप खाते पीते हैं और सबसे जरूरी जब आप शरीर को आराम के लिए सही वक्त देते हैं तो आपका शरीर उस मसल को रिपेयर करने का काम करता है ।

फिर जब दुबारा एक्सरसाइज आप करते हैं तब फिर से मसल टूटती हैं और फिर आपका शरीर उसे रिपेयर करने का काम करता है और इसी तरीके से मसल्स पहले से ज्यादा मजबूत होती जाती है और धीरे-धीरे मसल्स की ग्रोथ भी बढ़ने लगती है लेकिन प्रॉब्लम यह है कि एक्सरसाइज करने के बाद आपकी जो मसल्स टूटती है उसे दोबारा रिपेयर करने के लिए हमारे शरीर को कम से कम 48 घंटे यानी की 2 दिन का समय लगता है,

यहीं पर पहली प्रॉब्लम सामने आती है जब आप हर दिन पुशअप करते हैं तो आपकी चेस्ट की मसल ठीक से रिपेयर होती भी नहीं कि अगले दिन पुशअप करके आप उसे दोबारा डैमेज कर देते हैं जिससे कि मसल को रिपेयर होने के लिए सही समय मिल ही नहीं पाता और ऐसे में आपकी मसल्स की ग्रोथ या तो रुक जाती हैं या फिर बहुत धीमी पड़ जाती है ।

दूसरी प्रॉब्लम यह हो सकती है कि हमारे शरीर के 3 बड़े हिस्से होते हैं एक है अपर फ्रंट बॉडी यानी आप के ऊपरी शरीर के सामने का हिस्सा दूसरा लोअर बॉडी यानी शरीर का निचला हिस्सा और तीसरा है अप्पर बैक बॉडी यानी आपके ऊपरी शरीर के पीछे का हिस्सा,

अब यहाँ आप ध्यान से देखिए अगर आप हर दिन पुशअप करते हैं तो बेसिकली आप अपने शरीर के सामने के हिस्से के लिए एक्सरसाइज कर रहे होते हैं लेकिन आपकी लोअर बॉडी और बैक मसल्स का क्या ? उसके लिए तो आप कोई भी एक्सरसाइज नहीं कर रहे हैं ! 

ऐसे में एक तो आपकी बैक मसल्स भी ठीक से ग्रो नहीं होगी और आप आपके पैर भी धीरे-धीरे और भी ज्यादा पतले हो जाएंगे इसलिए आपको अपने एक्सरसाइज रूटीन में थोड़ा सा बदलाव करना चाहिए जो कि कुछ इस तरह होगा ।

हफ्ते में 7 दिन होते हैं जिसमें सोमवार यानी हफ्ते के पहले दिन आप अपर फ्रंट बॉडी के लिए पुशअप कर सकते हैं जिससे आपके चेस्ट, शोल्डर और ट्राइसेप्स मसल्स मजबूत होंगे, 

दूसरे दिन आप लोअर बॉडी के लिए एक्सरसाइज कीजिए और जिसके लिए स्कोर्ट यानी उठक-बैठक जैसी एक्सरसाइज किया जा सकता है । यह एक्सरसाइज जांघ और पैरों की मसल्स को मजबूत बनाने में काफी हद तक मददगार होती है, 

और तीसरे दिन आपको अपर बैक बॉडी के लिए एक्सरसाइज करना चाहिए जिसके लिए पुल-अप जैसी एक्सरसाइज करना सबसे बेहतर ऑप्शन हो सकता है क्योंकि इसे ठीक से करने से यह आपके बैक और बायसेप्स दोनों मसल्स को टारगेट करता है ।

गुरुवार को आपको कोई एक्सरसाइज नहीं करना है और फिर गुरुवार, शनिवार और रविवार को पहले की गई तीनो एक्ससाइज सीरियल नंबर से आपको दोबारा रिपीट करना है । 

इस तरह एक हफ्ते में दो बार आपके पूरे बॉडी का एक्सरसाइज हो जाएगा । पुलअप एक्सरसाइज थोड़ा मुश्किल होती है इसलिए अगर आप किसी वजह से पुल अप नहीं कर सकते तो आप 1 दिन पुशअप दूसरे दिन स्कॉर्ट्स फिर पुशअप फिर स्कॉर्ट्स । इस तरीके से बारी-बारी से इन दोनों एक्सरसाइज को कर सकते हैं । तो बस आज के लिए इतना ही धन्यवाद

Previous
Next Post »