बादाम( Almond ) खाने का सही तरीका आपको मालूम होना ही चाहिए ? : Wet Gain Easy from Almond

बादाम( Almond ) खाने का सही तरीका आपको मालूम होना ही चाहिए ?

बादाम( Almond ) खाने का सही तरीका आपको मालूम होना ही चाहिए ? : Wet Gain Easy from Almond

बादाम एक सूखे फल की श्रेणी में आता है जो साइज में छोटा होने के बावजूद यह शरीर को कई तरीके से फायदा पहुंचाता है, लेकिन उसके लिए इसे खाने का सही समय और सही तरीके का भी पता होना बहुत जरूरी होता है । बादाम का कुछ लोग वजन घटाने, कुछ लोग वजन बढ़ाने और कुछ लोग सिर्फ अच्छी सेहत मेंटेन करने के लिए इस्तेमाल करना चाहते हैं, इसलिए इन सभी अलग-अलग सिचुएशन में बादाम को कब ? कितना ? और किस तरीके से इस्तेमाल करना चाहिए ? उसके बारे में आज की इस पोस्ट में हम बात करेंगे ।

वैसे तो बदाम में कई तरीके के पोषक तत्व मौजूद होते हैं लेकिन विटामिन E के मामले में सभी खाने की चीजों में बादाम को दुनिया के सबसे अच्छे सोर्स में से एक माना जाता है । यह दिल और दिमाग की सेहत को इंप्रूव करने के साथ-साथ फ्री रेडिकल्स जैसे जहरीले पदार्थ से शरीर की कोशिकाओं को बचाने, त्वचा और बालों की सेहत को इंप्रूव करने में भी काफी हद तक मदद करता है । 

बादाम में हेल्दी फैट की भी अच्छी खासी मात्रा मौजूद होती है जिसका सही तरीके से इस्तेमाल करने से ये वेट गेन करने में भी काफी हद तक मदद करता है । 

■ 1 दिन में कितना बादाम खाना चाहिए ? 

दोस्तों बादाम एक सूखा फल होने के साथ-साथ इसमें हेल्थी फैट भी काफी मात्रा मौजूद होता है और हर वह चीज जिसमे फैट की मात्रा ज्यादा होती है उसे पचाने के लिए हमारे शरीर को बहुत ही ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है इसलिए बादाम खाने की शुरुआत हमेशा ही थोड़ी मात्रा से करनी चाहिए । 

आमतौर पर जो लोग बहुत ज्यादा मेहनत का काम नहीं करते उनके लिए चार से पांच बादम से ही शुरुआत करना सबसे बेहतर ऑप्शन हो सकता है और बाद में शरीर का रेस्पोंस देखते हुए इसकी थोड़ी मात्रा बढ़ाई भी जा सकती है लेकिन जो लोग वजन बढ़ाने के लिए हैवी वर्कआउट करते हैं वह अपनी जरूरतों के हिसाब से दिन भर में थोड़ा-थोड़ा करके 15 से 20 बदाम का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, 

क्योकि बादाम में हेल्दी फैट की मात्रा ज्यादा होने की वजह से यह हाई कैलोरी फूड की श्रेणी में आता है जिसका सही तरीके से इस्तेमाल करने से यह वजन बढ़ाने में काफी हद तक मदद करता है, लेकिन जब बादाम को ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल करना हो तो उसका छिलका निकाल देना चाहिए क्योंकि हमारे शरीर के लिए बादाम के छिलके के साथ पचा पाना और भी ज्यादा मुश्किल होता है ।

साथ ही जब आप बदाम का ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल करते हैं तो आपको यह भी ख्याल रखना चाहिए कि इससे अगर पाचन में किसी भी तरीके की दिक्कत महसूस होती है तो आपको बादाम की मात्रा थोड़ी कम कर देनी चाहिए और फिर शरीर का रिस्पांस देखते हुए इसकी मात्रा को बढ़ानी चाहिए । 

खासकर बादाम को ओट्स, केला, पीनट बटर और दूध के साथ इस्तेमाल किया जाए तो यह वजन बढ़ाने में और भी बेहतर तरीके से काम करता है और इस तरह से बनाए गए वेट गेन सुप का सुबह या फिर प्री वकआउट मील के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है । 

जहां तक वजन घटाने की बात आती है तो बादाम क्योंकि एक हाई कैलोरी फूड होता है इसलिए वजन घटाने में यह कोई खास रोल प्ले नहीं करता । हालांकि अच्छी सेहत मेंटेन करने के लिए 1 दिन में 4 से 5 बादाम का बेझिझक इस्तेमाल किया जा सकता है ।

■ बादाम का कब इस्तेमाल करना चाहिए ?

दोस्तों आमतौर पर एक सामान्य व्यक्ति के लिए बादाम को रात भर पानी में भिगोकर सुबह खाली पेट इस्तेमाल करना सबसे बेहतर माना जाता है क्योंकि इस समय आपका शरीर पोषक तत्वों को ज्यादा बेहतर तरीके से अब्जॉर्ब कर पाता है लेकिन इसके अलावा भी हल्की फुल्की भूख लगने पर बादाम का थोड़ी मात्रा में स्नेक्स के रूप में दिन भर में कभी भी इस्तेमाल किया जा सकता है ।

Previous
Next Post »