मेनिंजाइटिस का रोग क्या है ? What is meningitis?

मेनिंजाइटिस का रोग क्या है ? 

मेनिंजाइटिस का रोग क्या है ? What is meningitis?
Bacterial_Meningitis.

मेनिंजाइटिस का रोग एक बड़ा ही भयंकर रोग है , जिसमें मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी के ऊपर की झिल्ली में सूजन आ जाती है । यदि इस रोग का इलाज न किया जाए तो रोगी की निश्चय ही मृत्यु हो जाती है । इस रोग का तुरन्त इलाज करना अति आवश्यक है । 

क्या तुम जानते हो कि यह रोग कैसे फैलता है ? 


मेनिजाइटिस रोग एक जीवाणु द्वारा फैलता है । इस जीवाणु को नाईसीरिया मेनिजाइटिडीस ( Neisseria Meningitidis ) कहते हैं । यह रोग महामारी के रूप में फैलता है । 

अध्ययनों से पता चला है कि इस रोग का प्रकोप हर 10-12 साल बाद होता है और उसके बाद चार - पांच साल तक चलता रहता है । इस रोग का प्रकोप मुख्यतः बच्चों पर अधिक होता है । पांच साल से कम उम्र के बच्चे इस रोग के अधिक शिकार होते हैं । 

लेकिन जब यह रोग फैलता है तो उम्र का लिहाज किए बिना किसी को भी हो सकता है । यह रोग गर्मियों में सबसे कम फैलता है लेकिन उतरती ठंड और वसन्त ऋतु में सबसे अधिक फैलता है । इस रोग का प्रकोप उन लोगों को अधिक होता है , जो गंदी बस्तियों में तथा तंग स्थानों में रहते हैं । आम भाषा में इसे गर्दन - तोड़ बुखार कहा जाता है ।

इस रोग से पीड़ित व्यक्ति जब छींकता है या खांसता है तो रोग के जीवाणु स्वस्थ व्यक्ति तक पहुंच जाते हैं । ये जीवाणु पहले नाक व गले को अपना घर बनाते हैं । शरीर के इन्हीं अंगों में इनकी वृद्धि होती है । 

जीवाणुओं के गले में प्रवेश करने के चार - पांच दिन के बाद ही बीमारी के लक्षण प्रकट होने लगते हैं । रोग का प्रकोप होने पर गले में खराश , नाक का बहना , उल्टी , तेज बुखार , सिर में दर्द , कमर और गर्दन में पीड़ा होने लगती है । 

मेनिंजाइटिस का रोग क्या है ? What is meningitis?
Symptoms_of_Meningitis.

जब इस रोग के जीवाणु मस्तिष्क और मेरुदण्ड में प्रवेश कर जाते हैं तो गर्दन झुकाने में भी बहुत दर्द होता है । ठोड़ी को सीने से लगाना असम्भव ही हो जाता है । बुखार आने के दो - तीन दिन बाद शरीर पर छोटे - छोटे दाने निकल आते हैं । 

ये दाने कूल्हे से शुरू होकर पेट , छाती , बाहों व टांगों पर देखे जा सकते हैं । इस रोग में बुखार काफी तेज होता है । कभी - कभी रोगी के कान और आंख दोनों ही खराब हो जाते हैं । 

यदि मरीज का एक हफ्ते तक उचित इलाज न किया जाए तो उसकी मृत्यु हो सकती है । सामान्य लोगों का विचार है कि इस रोग का कोई इलाज नहीं है । लेकिन उनकी यह धारणा गलत है । इस रोग के इलाज में देर नहीं करनी चाहिए । 

सही इलाज करने पर इस रोग की चिकित्सा 24 घंटे में हो सकती है । सल्फाडाइजिन , पेन्सिलिन , टैट्रासाइक्लिन और एम्पिसिलिन , आदि इस रोग के उपचार के लिए बहुत लाभकारी हैं । 

एक ग्राम सल्फाडाइजिन दिन में दो बार तीन दिन तक अथवा रिफैम्पसिन 600 मि.ग्रा . प्रतिदिन पांच दिन तक लेने से इस रोग के प्रकोप से बचा जा सकता है ।

इस रोग का प्रकोप संसार के लगभग सभी देशों में होता रहता है । भारत में भी इसका प्रकोप काफी जोर - शोर से हो चुका है । आधुनिक अनुसंधानों के आधार पर इस रोग के जीवाणुओं को तीन समूहों या ग्रुपों में बांटा गया है - ए , बी और सी । 

अमरीका में सन् 1915 से सन् 1963 तक यह रोग ग्रुप ए के कारण महामारी के रूप में फैला था । सन 1964 से सन् 1968 तक यह रोग ग्रुप बी के कारण सक्रिय रहा । आजकल ग्रुप सी के जीवाणुओं का प्रकोप बढ़ता जा रहा है । 

मेनिंजाइटिस का रोग क्या है ? What is meningitis?
Deaths from Meningitis in 2012 per million persons. Statistics from WHO, grouped by deciles, author by - Chris55


  0-2
  3-3
  4-6
  7-9
  10-20
  21-31
  32-61
  62-153
  154-308
  309-734

दिल्ली में यह रोग ग्रुप ए के जीवाणुओं द्वारा फैला था । इस रोग को न फैलने देने के लिए अमरीका के वैज्ञानिकों ने ग्रुप ए , बी , सी के जीवाणुओं के लिए एक टीका विकसित कर लिया है , जिसके परिणाम काफी सन्तोषजनक रहे हैं । 

मेनिजाइटिस के रोग को साधारण रोग नहीं समझना चाहिए । इसके कुछ भी लक्षण प्रकट होने पर रोगी को तुरन्त अस्पताल ले जाना चाहिए । रोग की चिकित्सा में किसी प्रकार का विलम्ब बहुत ही घातक सिद्ध हो सकता है ।


List of more General Knowledge ( GK ) ~ 

- सभी की उंगलियों के निशान एक से क्यों नहीं होते ?

- हमें सपने क्यों दिखाई देते हैं ?

- मरने के बाद भी आदमी के बाल क्यों बढ़ते रहते हैं ?

- मुर्दा पानी पर क्यों तैरता है ?

- एक्यूपंक्चर ( Acupuncture ) चिकित्सा प्रणाली क्या है?

- टेलीविज़न अंधेरे में तथा नजदीक बैठकर क्यों नहीं देखना चाहिए ?

ऐसे ही अन्य विषयों की रोचक जानकारी के लिए Infarmo.com में विजिट करें ।

Infarmo.com के कुछ प्रमुख पेजेस - 

- कैलोरी ( Calorie ) क्या है और इसे कैसे मापते हैं ? 

- दृष्टि - परीक्षण ( Eye - sight Test ) कैसे किया जाता है ?

- जाड़ों में हमारे हाथ और ओंठ क्यों फट जाते हैं ? 

- वंशानुगत ( Hereditary ) रोग क्या है ? 

- दाद ( Ring - worm ) क्यों हो जाता है ?

- आंख पर चोट लगने से हमें तारे क्यों दिखने लगते हैं ?

- क्या हमारे शरीर में भी कोई घड़ी है ?

- आनुवंशिकी ( Genetics ) क्या है ?

- मेनिंजाइटिस का रोग क्या है ?

- पेसमेकर ( Pacemaker ) हृदय की धड़कन कैसे नियंत्रित करता है ? 

- हमें डकार क्यों आती है ?

- कैट स्कैनर ( Cat Scanner ) क्या है ?

- चेतना क्या है ? 

- शरीर में कोशिकाएं , ऊतक , अंग और तंत्रिका कैसे बनते हैं?  

- क्या हर व्यक्ति के शरीर से एक विशेष गन्ध आती है ?

- दर्द का पता कैसे चलता है ?

- कृत्रिम गर्भाधान ( Artificial Insemination ) क्या है ?

- शरीर के किन अंगों को प्रत्यारोपित ( Transplant ) किया जा सकता है ?

- इन्फ्लुएंजा ( Influenza ) कैसे हो जाता है ?

- हमारे शरीर में खुजली क्यों होती है ? 

- एपेनडिसाइटिस ( Appendicitis ) क्या है ? 

- हमारे शरीर के लिए कौन - से पदार्थ ईंधन का काम करते हैं ?

- इलेक्ट्रोमायोग्राम ( Electromyogram ) क्या होता है ? 

- इलेक्ट्रोरेटिनोग्राम ( Electro - retinogram ) क्या है ?

- पेंक्रिआस ( Pancreas ) शरीर में क्या काम करते हैं ?

- फ्ल्यूराइड ( Fluoride ) से हमारे दांत कैसे मजबूत हो जाते हैं ?

- अधिक कोलेस्ट्रॉल ( Cholesterol ) क्यों हानिकारक है ?

- क्या मनुष्य के शरीर में बिजली पैदा होती है ?

- क्या हम कई बार जन्म लेते हैं ? 

- सन्धिवात ( Arthritis ) रोग क्या है ?


और भी जाने  ~

Human - Body ( Chapter ~ 1 )  

Human - Body ( Chapter ~ 3 ) 

Human - Body ( Chapter ~ 4 )  



Previous
Next Post »