मसूड़ों से खून आना [ Bleeding Gums ] की समस्या के परिचय एव चिकित्सा ? Introduction to the problem of bleeding gums [Bleeding Gums] and medicine?

मसूड़ों से खून आना [ Bleeding Gums ] 

मसूड़ों से खून आना [ Bleeding Gums ] की समस्या के परिचय एव चिकित्सा ? Introduction to the problem of bleeding gums [Bleeding Gums] and medicine?
Bleeding Gums


यह एक बहुत ही सामान्य ( Common ) अवस्था है । अनेक रोगी मसूडों से रक्त आने की शिकायत करते हैं । आजकल मसूड़ों से खून आने का विकार ठीक तरह से ब्रुश न करने से होता है । असावधानी के कारण मसूड़े बराबर हिलते रहते हैं । मसूड़े जख्मी होकर कुछ समय बाद फूलने लगते हैं तब साधारण ब्रुश करने या अंगुली के दबाव मात्र से रक्त निकलने लगता है । 

• कभी - कभी भोजन के बाद घावों को भली प्रकार से साफ न करने और मसूड़ों को ठीक से न मलने से भी रक्त निकलने लगता है । 

• दाँतों पर पपड़ी ( Tartar ) जमने से भी मसूड़ों से रक्त आने लगता है ।

• कभी - कभी भोजन के बाद घावों को भली प्रकार से साफ न करने और मसूड़ों को ठीक से न मलने से भी रक्त निकलने लगता है । → दाँतों पर पपड़ी ( Tartar ) जमने से भी मसूड़ों से रक्त आने लगता है । । कभी - कभी गर्भावस्था में भी मसूड़ों से रक्त आने लगता है । यह उस समय होता है जब हार्मोन्स का सन्तुलन बिगड़ जाता है ।


व्लीडिंग गम्स की चिकित्सा



• भोजन के बाद दोनों बार ब्रुश करें । → 

• टारटार ( पपड़ी ) जमने की स्थिति में दाँतों की सफाई के लिये रोगी को दंत चिकित्सक के पास भेज देना चाहिये । ( दाँतों की सफाई For Scaling of teeth ) । 

• गर्भावस्था में मसूड़ों से रक्त आने पर मुखगुहा को स्वच्छ रखना है तथा यह स्वतः ही ठीक हो जाता है ।


Previous
Next Post »