प्रोस्टेट ग्रंथि बढ़ने के ये हैं लक्षण - These are signs of growing prostate gland -

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ़ने के ये हैं लक्षण - These are signs of growing prostate gland -
These are signs of growing prostate gland


प्रोस्टेट ग्रंथि बढ़ने के ये हैं लक्षण -

पुरुषों को यदि रात को सोते से उठकर यूरीन के लिए टॉयलेट बार - बार जाना पड़े तो यह बढ़ी हुई प्रोस्टेट का सबसे आम लक्षण है । ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बढ़ी हुई प्रोस्टेट ग्रंथि युरेथ्रा को दबाती है । यूरेथ्रा वह ट्यूब है । जिसके जरिए यूरीन शरीर के बाहर निकाली जाती है । यदि यह दबाई जाती है तो ब्लेडर को यूरीन बाहर निकालने के लिए बहुत जोर से खुद को भींचना पड़ता है । ऐसा होने पर ब्लेडर बहुत कम मात्रा में यूरीन हो तब भी खुद को भींचने लगता है जिससे बार - बार टॉयलेट जाने की हाजत पैदा हो जाती है ।


मुश्किल से यूरीन पास होना -

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ़ी हुई हो तो बहुत पतली धार के रूप में यूरीन बाहर निकलती है । इस प्रक्रिया में पहले से अधिक देर लगने लगती है । मरीज को ऐसा लगने लगता है कि यूरीन अभी पूरी तरह पास नहीं हुई है और अभी ब्लेडर में काफी मात्रा में शेष रह गई है । मरीज महसूस कर सकता है । यूरीन बूंद - बूंद करके टपकती है पहले की तरह तेज धार नहीं बंध पाती है । ऐसा इसलिए होता है । क्योंकि दबाव पड़ने के कारण युरेथ्रा सिकुड़ जाती है । इसलिए ब्लेडर को यूरीन बाहर निकालने के लिए अतिरिक्त मेहनत करनी पड़ती है । ।


यूरीन करना ही मुश्किल हो जाता है -

कई मरीजों को प्रोस्टेट ग्लैंड के एडवांस स्टेज में बढ़ जाने के कारण यूरीन करना मुश्किल हो जाता है । यूरीन बाहर नहीं निकल पाने के कारण ब्लेडर में संक्रमण होने लगता है । ब्लेडर की मांसपेशिया भी कमजोर हो जाती हैं और पूरी तरह यूरीन को बाहर नहीं निकाल पाती हैं । यह स्थिति किडनी फेलियर की ओर ले जाती है । यदि किसी भी वजह से यूरीन पास करना मुश्किल हो रहा हो तो तत्काल अस्पताल के इमरजेंसी रूम में जाकर दिखाएं ।

प्रोस्टेट या पौरुष ग्रंथि 60 साल की उम्र के बाद वहने लगती हाकई | पुरुषों में इस समस्या के लक्षण सामने आते हैं तो कुछ को किसी लक्षणा का सामना नहीं करना पड़ता है । पौरुष ग्रंथि लेदर के नीचे की ओर स्थित रहती है तथा शुक्राणु के लिए तरल पदार्थ का निर्माण करता है । इन लक्षण के आधार पर जान सकते हैं कि पौरुष ग्रंथि बढ़ चुकी है और उसका इलाज किया जाना चाहिए ।

किन लोगों की बढ़ जाती है प्रोस्टेट ग्रंथि -

पौरूष ग्रंथि उम्र के साथ लगातार बढ़ती जाती है । आमतौर पर इसके बढ़ने के कोई भी लक्षण 40 साल से पहले दिखाई नहीं देते हैं । 60 साल की उम्र के बाद प्रोस्टेट बढ़ने के लक्षण दिखाई देने लगते हैं । अधिकांश पुरुष इन लक्षणों को . नजरअंदाज करते हैं और इन पर कोई ध्यान नहीं देते हैं ।


शुरुआत से ही कराएं जांच -

प्रोस्टेट ग्लैंड के बढ़ने के लक्षण यद्यपि दूसरी बीमारियों से भी मिलते जुलते हैं । लेकिन इन्हें टालना नहीं चाहिए । प्रोस्टेट ग्रंथि के साइज की जांच शुरू से ही कराते रहें । प्रोस्टेट कैंसर की आशंका को भी जांचों ओर परीक्षणों के जरिए दूर करें ।


क्या हो सकती है जांचें -

1 . अल्ट्रा साउंड से प्रोस्टेट के आकार और ब्लेडर में शेष रहने वाली यूरीन की मात्रा की जांच की जाती है । 

2.  यूरीन और ब्लड की जांचें 

3 . यूरीन के फ्लो की जांच


क्या हो सकती है उपचार -

यदि लक्षण बहुत गंभीर न हो तो संभव है कि चिकित्सक इलाज की आवश्यकता ही न समझे । यदि यूरीन पास करने में मुश्किल आ रही हो और बार - बार संक्रमण हो रहा हो तो उपचार जरूरी है । इसके अलावा किडनी डैमेज होने से बचाने के लिए भी उपचार किया जाना चाहिए । इन्हें दवाओं से अथवा सर्जरी के जरिए ठीक किया जाता है ।

Previous
Next Post »