बुखार से भी हो सकता है गर्भवती महिलाओ के बच्चों को ऑटिज्म का खतरा ? Fever may also be the risk of autism to children of pregnant women?

हाल ही में से एक शोध के मुताबिक गर्भावस्था के दौरान मां को बुखार आने से बच्चे को ऑटिज्म  ( मानसिक रूप से कमजोर ) होने का खतरा होता है। इसी के साथ बच्चे में कई प्रकार के शाररिक संबंधित विकास भी रुकने की संभावना होती है क्योंकि अभी इसका कारण नहीं खोजा जा सका है की बुखार की वजह से ऑटिज्म का जोखिम आखिर क्यों होता है। लेकिन सभी गर्भवती महिलाओं को किसी कारण से बुखार आने पर घबराने को बिल्कुल ही आवश्यकता नहीं है।
Fever may also be the risk of autism to children of pregnant women?
fever may also be the risk of autism to children of pregnant women?
गर्भवती महिलाओं को कई कारणों से बुखार आ सकता है, लेकिन बुखार उतारने के लिए उपायों के कारण ऑटिज्म का जोखिम भी जाता रहता है। यूएस के एक सेंटर ऑफ डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेशन के मुताबिक अमेरिका में हर 90 बच्चों में से एक बच्चा ऑटिज्म का शिकार हो जाता है। ऑटिज्म की अवस्था में बच्चा सामाजिक व्यवहार एवं अपने रोजमर्रा के कार्यों को करने में भी कमजोर हो जाते हैं यहां तक कि वह दूसरों से संवाद या बातचीत भी ठीक से नहीं कर पाता।



यूनिवर्सिटी ऑफ कैलीफोर्निया अमेरिका के एक शोधकर्ता जिनका नाम डेविस है उन्होंने ग्यारह सौ बच्चों की माताओं का अध्ययन किया। जिन्हें मुख्य रूप से गर्भधारण की अवधि में फ्लू हुआ था या फिर किसी अन्य कारण की वजह से बुखार आया था, इसमें ज्यादातर ऑटिज्म के शिकार बच्चों तथा सामान्य बच्चों की माताओं को ही शामिल किया गया था। इस शोध से स्पष्ट रूप से इस बात की भी जानकारी ली गई थी के बुखार के इलाज के दौरान कौन-कौन सी दवाइयां ली गई थी। इस शोध के नतीजे जनरल ऑफ ऑटिज्म एंड डेवलपमेंट डिसऑर्डर नामक पत्रिका में भी प्रकाशित किए गए थे।


नतीजों से प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक जिन-जिन महिलाओं को गर्भावस्था के समय बुखार आता है ऐसे में उनके बच्चों को ऑटिज्म होने का जोखिम 2 से 3 गुना ज्यादा हो जाता है। मानसिक विकास के साथ शारीरिक विकास भी मुख्य रूप से प्रभावित होता है। शोध के नतीजों से यह भी ज्ञात होता है कि वे महिलाएं जिन्होंने अपने बुखार को उतारने के लिए कोई न कोई दवाई ली थी उनके बच्चों को इस आटिज्म का खतरा बाकियों के मुकाबले कम था।

एक दूसरे अन्य शोधकर्ता ऑकलैंड कैलिफोर्निया के कैजर परमानेंटस नर्दन कैलिफोर्निया डिविजन ऑफ रिसर्च के डॉक्टर ओसनी जेबो के अनुसार इस अध्ययन से यह प्रत्यक्ष रूप से प्रमाण मिले हैं की बुखार उतारने वाली किसी भी दवाई लेने वाली गर्भवती महिलाओं को उनके बच्चों में ऑटिज्म होने की संभावना बहुत कम हो जाती है।


लॉस एंजेलिस में पीडियाट्रिक सर्विसेस की पीडियाट्रिक न्यूरोलॉजी की निदेशक डॉक्टर वाय जैन का यह मानना है कि इस अध्ययन से जो भी ऑटिज्म होने की संभावना भले ही बुखार आने की स्थिति में हुई हो इसका मतलब है या नहीं फिर सभी गर्भवती महिलाएं बुखार आने पर घबरा जाए।


बुखार आने का सीधा सा अर्थ यह है कि शरीर की रोग प्रतिरोधक प्रणाली बैक्टीरिया तथा वायरसों को खत्म कर रही है। फिर भी वेज्ञानिकों का यह भी मानना है कि इस क्षेत्र में अभी भी और कई प्रकार के शोध होने बाकी है जिससे कि ऑटिज्म के होने का सही और पक्के तौर पर जानकारी हो एवं उसका इलाज किया जा सके।
Previous
Next Post »