नि:संतानता कि अवस्था में अपने डॉक्टर से पूछे ये 10 सवाल?These 10 questions asked to your doctor in the condition of Childlessness?

निसंतान का दर्द महिलाओं को अंदर ही अंदर खोखला करता रहता है। विवाह के बाद अक्सर शादीशुदा जोड़े संतान उत्पत्ति के लिए लापरवाह रहते हैं और वर्ष बीतने के साथ-साथ जब संतान उत्पत्ति में कॉम्प्लिकेशन उत्पन्न होते हैं तो उनकी चिंताएं बढ़ती जाती है इसीलिए विवाह के बाद संतान उत्पत्ति के लिए संयोजित योजना तैयार करना चाहिए। इसके साथ अगर योजना असफल रही तो उस स्थिति से निपटने के लिए भी क्या तैयारी की जरूरत होगी इस विषय में भी पहले से तैयारी कर ले, और एक बात महिलाओं को अपने आप से एक सवाल हमेशा पूछना चाहिए कि वह कैरियर के राह में प्रकृति से खिलवाड़ तो नहीं कर रही ?
These 10 questions asked to your doctor in the condition of Childlessness?
these 10 questions asked to your doctor in the condition of childlessness?
कैरियर एवं प्रोफेशन लाइफ में नए शादीशुदा युवा दंपत्ति कुछ वर्षों के लिए बच्चों के झंझट से अपने आप को फ्री ही रखना पसंद करते हैं। उनका यह सोचना होता है कि कुछ वर्षों के लिए बच्चे से दूरी ही रखा जाए ताकि इन कुछ समय में कुछ कमाई कर सकें। ऐसी स्थिति में उनका सिर्फ अपने नौकरी या व्यवसाय को ही व सर्व प्राथमिकता देते हैं पर प्रकृति की आगे किसी की नहीं चलती। वे यह भूल जाते हैं कि प्रकृति कई लोगों को इतनी मोहलत नहीं देती। 
स्त्री रोग विशेषज्ञों का यह मानना है कि संतान उत्पत्ति के लिए 30 साल से पहले के समय किसी भी महिलाओं के लिए स्वर्ण काल होता है। इसका मतलब यह है कि इस समय तक महिलाएं आसानी तथा बिना किसी दिक्कत के गर्भधारण करने में समर्थ होती हैं। उसके बाद की उम्र के साथ धीरे-धीरे गर्भधारण और प्रजनन में शारीरिक दिक्कतें उत्पन्न होना शुरू हो जाती हैं। यहां तक कि कई-कई दंपतियों को तो कृत्रिम गर्भाधान के उपायों का मदद लेना पड़ता है।

ऐसी स्थिति में जब भी आप किसी डॉक्टर से सलाह के लिए जाएं जो उनसे यह 10 सवाल करना ना भूलें।
In such a situation, whenever you go for advice from a doctor, do not forget about this 10 questions.
in such a situation, whenever you go for advice from a doctor, do not forget about this 10 questions.
- मेरा डायग्नोसिस क्या है? और इससे मेरे प्रजनन पर क्या प्रभाव पड़ रहा है? क्या मेरे पार्टनर में कोई समस्या है जिसकी वजह से संतान नहीं हो रही है? क्या यह परिस्थिति समय के साथ और भी विकट हो जाएंगी या इसमें किसी प्रकार का कोई बदलाव भी आएगा?

- यदि मेरी संतान हीनता का कारण अस्पष्ट है तो मुझे आगे कौन-कौन से टेस्ट करवाने चाहिए? क्या संभावना है कि इन टेस्टों से मेरी समस्या का निदान हो पाएगा? और क्या इन टेस्टों एवं जांचों से किसी प्रकार का कोई खतरा तो नहीं? इसके अलावा क्या मेरे पार्टनर को भी किसी जांच की जरूरत होगी?

- सर्वप्रथम मुझे किस प्रकार का इलाज दिया जाएगा? क्या इस इलाज में किसी प्रकार का कोई सर्जरी होगी या फिर केवल दवाइयों से ही इलाज होगा?

- आपके अनुभव के मुताबिक इस तरह के इलाज से कितने महिलाओं को सफल गर्भाधान हुआ है? और इसमें गर्भपात का जोखिम कितना होता है?

- क्या और अन्य कोई परंपरागत इलाज भी इसके लिए मौजूद है? अगर है तो इन दोनों इलाकों में कौन सा इलाज मेरे केस में अच्छा रहेगा?

- इलाज कितने समय तक चलेगा तथा इस इलाज के बाद किसी अन्य इलाज की आवश्यकता होगी? क्या इस बीच मासिक धर्म की साइकिल को नजर अंदाज करेंगे?

- क्या मेरी दिनचर्या में बदलाव लाने से गर्भवती होने के अवसर बढ़ेंगे?

- क्या आप दान से प्राप्त हुए शुक्राणुओं से इलाज करने की सलाह देंगे? क्या आपने इस तरह का इलाज किसी दूसरे मरीज को पहले भी किए हैं?

- मेरे गर्भवती होने के कितने अवसर हैं आपकी राय में क्या फर्टिलिटी ट्रीटमेंट मेरे लिए फायदेमंद होगा?

- इलाज में कुल खर्च कितना आएगा? क्या बीमा कंपनियां इस तरह के इलाज के लिए भुगतान करती हैं?

बस आपको इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखकर सवाल पूछने हैं।
Previous
Next Post »